atomic habits

Atomic Habits In Hindi Book Summary | आदत बनाना सीखें |

क्या आप भी कोई आदत बनाना सीखना चाहते है ? या फिर कोई आदत छोड़ना चाहते है ?

आज में आपको जिस किताब की summary बताने जा रहा हूँ उनका नाम है atomic habits जिससे हम सीखेंगे की किसी भी आदत को बनाने की लिए या बुरी आदत को खत्म करने के लिए आपको 4 steps की जरुरत होती है, या फिर हम ये कह सकते है की कोई आदत 4 steps में करी जाती है, उससे पहले में आपको इस किताब के नाम मतलब बता देता हूँ

atomic – सूक्ष्म  और habit- आदत 

जब भी हम कोई आदत को सिखने का प्रयास करते है जेसे की सुबह जल्दी उठाना, रोज़ gym जाना,guitar सीखना या और कोई आदत जो आप सीखना चाहते है, तो हम ये सोचते है की आदत बनाना सीखो atomic habits उसका result हमे अगले दिन से दिखना start हो जाना चाहिए, लेकिन ये सच नहीं है कोई भी आदत बहुत ज्यादा छोटे छोटे action लेकर ही बनती है |

अगर आप एक दिन शराब पी ले तो आपको उसकी लत नहीं लगेगी लेकिन अगर यही process आप बार बार करेंगे तो आपको उसकी आदत हो जाएगी जो आगे जाके लत बन जाएगी |

आप बिलकुल सूक्ष्म action लेके अपनी कोई भी आदत बदल सकते है, उसका result शुरू में नहीं दिखेगा  लेकिन समय के साथ आपका action आपकी आदत बन जायेगा आपको खुद पता नहीं चलेगा |

अगर आप एक दिन में सिर्फ  1% अपने आप को  better करते हो तो आप एक साल में 37.78 गुना अपने आप को better बनाते हो ,और अगर आप एक दिन में अपने आप को 1% बेकार या ख़राब बनाते हो तो आप एक साल में 00.03 ही रह जाते हो, ये हे कमाल atomic habit का

हम किसी भी आदत को अपने अन्दर इसलिए develop नहीं कर पाते है क्योंकि आपके action का result आपको शुरुआत में दिखता नहीं  फिर आप उदास और मायूस हो जाते हो आदत बनाना सीखो atomic habits और उस आदत को करना छोड़ देते हो |

हमे अपने goal पे नहीं बल्कि system पर ध्यान देना होता है और उसको रोज़ enjoy करना है जिससे आप habit बना सकते |

अब बात करते है उन 4 steps की जिससे कोई भी आदत पूरी होती है, वो है cue(संकेत),  craving(इच्छा),  response(प्रतिक्रिया) और reward(प्रतिफल).

एक उदाहरण से समझते है – मान लीजिये आप घर में बैठे है और आपका फ़ोन एक sound करता है, शायद कोई sms का sound हो सकता है या कोई you tube notification का, ये है cue, उसके बाद आपके मन में ये  इच्छा पैदा होती है फ़ोन को उठाऊ और देख लू की क्यों फ़ोन बजा ये है craving,  फिर आप फ़ोन को जाकर उठाते हो और check करते हो की sound क्यों बजा ये है  response, ये देख कर की फ़ोन में क्यूँ  sound हुआ था आपकी जिज्ञासा पूरी हो जाती है जिससे आपके मन में पूर्ण होने की भावना आती है और ये होता है reward.

लेकिन ये इतनी जल्दी होता है की आपको पता ही नहीं चलता की अपने अपनी पूरी activity कब खत्म कर दी और हम उन्ही 4 चीजो से आदत को बनाना या खत्म करना सीखेंगे तो चलिए शुरू करते है

1. पहला नियम

cue को स्पष्ट बना दो

  • बार बार बोलना – कोई भी आदत बनाने से पहले आपको अपनी पूरी दिनचर्या से aware होना चाहिए की आप पुरे दिन करते क्या है, उसके लिए जो भी आप करते हैspeaking kitaab उसको आप बोल बोल के करे, उदाहरण के लिए – मैने 1 घंटा फेसबुक चलाया, में आज 8 बजे उठा या मैने 2 घंटा you tube चलाया, इससे आपको ये पता चलेगा की आपको क्या करना है और क्या नहीं करना है |
  • समय और जगह –  जो भी आप आदत शुरू करने वाले है उसका समय और जगह पहले से तय होनी चाहिए, इससे आपके मन में उस काम को लेकर एक समय और जगह तैयार हो जाएगी |
  • आदत को आदत से मिलाना – अपनी current आदत को अपनी उस आदत से मिला दो जो आप शुरू करना चाहते हो, उदाहरण के लिए मान लीजिये आप सुबह योग करने की आदत बनाना चाहते है तो आप इसे कहिये की “में सुबह ब्रश करने के बाद 60 सेकंड योग करूँगा |
  • आसान बनाना – आदत को करने का process आसान बना दो, मान लीजिये आप सुबह सुबह एक गिलास पानी पिने की आदत शुरू करना चाहते है तो रात को ही पानी से भरा गिलास बेड के बिलकुल बगल में रख दीजिये सुबह जब आप उठेंगे आपको kitchen तक नहीं जाना होगा आप गिलास उठाएंगे और तुरंत पी लेंगे |
  • कठिन बना दो – जब कभी भी आपको ऐसा लगे की आपकी current आदत से आपका समय बर्बाद हो रहा है तो उसका करने का process कठिन बना दो, उदाहरण के लिए, आदत बनाना सीखो atomic habits अगर आपको फ़ोन का कम use करना है तो उसमे से face lock हटा दीजिये और password में अक्षर,नंबर सब इस्तेमाल कीजिये इससे जब भी आपको फ़ोन use करना होगा आपको इतना लम्बा password type करना होगा, जो आपके दिमाग को धीरे धीरे थका देगा और आदत चली जाएगी |

2. दूसरा नियम

craving को आकर्षित बना दो

  • temptation bundling –  अपनी आदत को अपनी पसंदीदा आदत के साथ मिला दे, अगर पहले वाला उदाहरण लू तो, “में सुबह ब्रश करने के बाद 60 सेकंड योग करूँगा उसके बाद 20 मिनट गाने सुनूंगा | इसमें ब्रश करना (प्रतिदिन की आदत है ), योग करना (आदत बनाना चाहता हूँ), गाने सुनना (पसंदीदा आदत ).
  • माहौल – हम जेसे वातावरण मे रहते है वैसे ही बन जाते है, तो इसलिए ज्यादातर उन दोस्तों या उन लोगो के साथ रहे जिनसे वो आदत पहले से हो जो आदत आप अपने अन्दरspeaking kitaab develop करना चाहते है,  मान लीजिये आपको book पढने की आदत डालनी है तो Facebook या Instagram ऐसे pages को follow कर लीजिये जिनमे लोग पहले से book पढ़ते हो और अच्छी अच्छी books शेयर करते हो |
  • unattractive बना दो – हर गलत आदत एक पहले से तैयार मानसिकता से हम करते है, जैसे cigarette पीने से stress कम होता है,  चाय से थकान चली जाती है, सुबह पार्क नहीं जाता क्योंकि उठ नहीं पाता….आदि, इसलिए जब भी कोई गलत आदत करे तो  उसकी गलत धरना अपने जो अपने मन में बना राखी है उसको बार बार बोल बोल के दोहराइए |

3. तीसरा नियम

RESPONSE को आसान बना दो

  • समय नहीं बल्कि दोहराना – किसी भी काम को आप कितनी देर तक कर रहे है ये ना speaking kitaabदेखे  बल्कि ये देखे की कितनी बार कर रहे है, कोई भी आदत बार बार करने से बनती है ना की बहुत लम्बे समय के लिए एक बार करने से, एक दिन में 4 घंटे guitar सिखने के बजाय हर दिन बस 20 मिनट ही सीखे और हर दिन सीखे |
  • least effort – human behavior को आसान चीजे करना ज्यादा पसंद है इसलिए अपनी आदत को करने के लिए ऐसा माहौल बना दे की उसको करने के लिए आपके दिमाग को ज्यादा सोचना ना पड़े, और आदत के लिए माहौल पहले से ही तैयार रखे, अदाहरण के लिए अगर सुबह running के लिए जाना है तो shoes पहले से ही bed के नीचे रख दें |
  • 2 मिनट फार्मूला –  जब कभी भी आप कोई नई आदत शुरू करे तो उसको करने के लिए शुरुआत में 2 मिनट से ज्यादा नहीं लगना चाहिए, उदाहरण के लिए आदत बनाना सीखो अगर आप सुबह gym जाना चाहते हो तो सुबह सिर्फ आँख खोलिए और सो जाइये, अगले दिन आँख खोलिए उठिए और दोबारा सो जाइये, तीसरे दिन आँख खोलिए उठिए अपने जूते बांधिए और फिर दुबारा सो जाइये, और अपने दिमाग को बोलिए मेने काम कर लिया,धीरे धीरे आप gym तक  पहुँच जायेंगे और फिर वो action  पहले ही इतनी बार हो चूका होगा की वो अब एक आदत बन जाएगी |
  • pressure डालना – future के लिए पहले से ही फ़ीस का भुगतान कर दे और अपने दोस्तों को भी बता दें की आप कौन सी नई आदत शुरू कर रहे है इससे आपके ऊपर आदत को करना का pressure बनेगा |

4. चोथा नियम

reward को आनन्दित बना दो

  • reward दें – कोई भी आदत करने के बदले हमारे दिमाग को एक reward के जरुरत होती है ताकि वो उसको अगली बार दुबारा करे, इसीलिए अपनी आदत को करने के लिए speaking kitaabअपने आप को कुछ ना कुछ reward दें, अपने दिमाग को बोले अगर ये आदत करूँगा तो 1 घंटा Facebook चलूँगा, मूवी देखने जाऊंगा…..आदि
  • measure करे – अपनी आदत को हर दिन measure करे की अपने अपनी आदत को आज किया है की नहीं किया, रोज़ calendar पर मार्क लगा देंspeaking kitaab
  • never miss twice – कभी कभी ऐसा होगा की आप किसी दिन अपनी आदत को नहीं कर पाएंगे किसी भी कारण से लेकिन एक दिन से ज्यादा उसको miss ना करे अगले दिन जरुर उसको करे | चाहे थोड़ी देर करें लेकिन करें जरुर |
  • habit contract – किसी दोस्त के साथ एक contract बना ले की अगर आप किसी दिन अपनी आदत को नहीं करोगे तो आपको punish किया जायेगा या आपको अपने speaking kitaabदोस्त को कुछ पैसे देने होंगे अगर अपने अपनी आदत नहीं की तो | लेकिन ध्यान रखें आपका दोस्त ये देख पा रहा हो की आप वो आदत कर रहे है की नहीं का रहे है |आदत बनाना सीखो

 

Atomic habits किताब को खरीदने के लिए यंहा क्लिक करें 


आशा करता हूँ आपको ये book summary पसंद आई होगी, अगर पसंद आई हो तो दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे….धन्यवाद !


कुछ और किताबो की summary पढ़ें :-

 

About the author

Vishal Paul

hello दोस्तों मेरा नाम Vishal Paul है, मुझे किताबे पढ़ना और जो बातें मेने उन किताबों से सीखी उनको दुसरो को बताना पसंद है। तो अगर आपको भी बहुत थोड़े समय में बहुत कुछ जानना है तो आप speakingkitaab पर visit कर सकते है जहाँ हम कुछ Great life lessons हिंदी में सीखेंगे।

View all posts

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *