speakingkitaab.com

Ikigai book summary in Hindi : Japanese secret To a long and happy life

जापान के एक island जिसका नाम ओकिनावा है, उस पर 100,000 लोगो में से औसतन 24.55 लोग 100 साल की उम्र से ज्यादा के है, जो की पूरी दुनिया से बहुत ज्यादा है |speakingkitaab.com

जापान का एक गाँव जिसका नाम Ogimi है उसको दुनिया में “लम्बी उम्र का गाँव” के नाम से जाना जाता है क्योंकि वंहा पर सबसे ज्यादा लम्बी उम्र के लोग रहते है |

तो आखिर ऐसा कौन सा रहस्य है जापान के लोगो के पास जो उनको इतनी लम्बी उम्र देता है?

इसी रहस्य के बारे में हमें ये किताब बताती है, और उस रहस्य का नाम है “IKIGAI”

क्या है IKIGAI?

इस किताब में हमें IKIGAI एक चित्र के माध्यम के द्वारा बताया गया है,  जिसको हम नीचे विस्तार में देखते है |speakingkitaab.com

पहला कदम 

जब आप वो काम जिससे आप प्यार करते है और जिसे आप करने में निपुण है , इन दोनों को मिला देते हो तो  बनता है PASSION.

काम से प्यार + करने में निपुण = PASSION

दूसरा कदम 

जब आप वो काम जिसे आप करने में निपुण है और उसको करने के लिए आपको पैसे भी मिलेंगे, इन दोनों को मिला देते हो तो बनता है PROFESSION.

करने में निपुण + काम से पैसे = PROFESSION

तीसरा कदम 

जब आप वो काम जिसे करने से आपको पैसे मिलते है और दुनिया को उस काम की जरुरत भी  है, इन दोनों को मिला देते हो तो बनता है VOCATION.

काम के पैसे + दुनिया को जरुरत = VOCATION (पेशा)

चौथा कदम 

जब आप वो काम जिसकी दुनिया को जरुरत है और उस काम से आप प्यार भी करते है, इन दोनों को मिला देते है, तो बनता है, MISSION.

दुनिया को जरुरत + काम से प्यार = MISSION.

आखरी कदम 

आखरी कदम में जब आप ऊपर दिए गये चारो कदम PASSION, PROFESSION, VOCATION, और MISSION को मिला देते हो तो बनता है “IKIGAI”

PASSION + PROFESSION + VOCATION + MISSION = IKIGAI 

जब भी आप कोई भी कार्य करें तो अपने आप से हमेशा पूछे की क्या वो काम आपको करना अच्छा लगया है, क्या वो काम करने आप निपुण है,  क्या वो काम मुझे पैसे देगा, और क्या उस काम की दुनिया को जरुरत है |

हर किसी का अपना एक IKIGAI होता है उसी को हमे खोजना है, जापान के लोग उसी को ढूंड कर अपनी ज़िन्दगी उसी के अनुसार जीते है |

ऐसी और क्या चीजे है  जो जापान के लोगो को इतनी लम्बी उम्र और खुशहाल ज़िन्दगी देती है आईये देखते है |

retirement 

क्या आपको पता है की जापान की भाषा में retirement के मतलब जैसा कोई भी शब्द नहीं है| जापान के लोग अपने काम से कभी भी retire नहीं होते है, वो पूरी ज़िन्दगी कुछ ना कुछ काम करते ही रहते है |speakingkitaab.com

वंही अगर हम दूसरी तरफ दुसरे देशो की बात करें तो लोगो को जल्दी से retirement चाहिए, उनको कैसे भी करके अपने काम से छुटकारा चाहिए, और ऐसा इसलिए होता है क्योंकि वो अपने काम से प्यार नहीं करते है |

जब आप  कोई भी काम जबरदस्ती या सिर्फ पैसो के लिए करते है तो उस काम में आप खुश नहीं रहते हो, जिस कंपनी के लिए काम करते हो उसको भी आपसे  ज्यादा value नहीं मिलती है |

लम्बी और ख़ुशी से भरी ज़िन्दगी जीने के लिए आपके अपने काम से प्यार होना चाहिए तब आप कभी retirement के बारे में नहीं सोचेंगे क्योंकि आपकी ख़ुशी ही अब आपके काम में होगी ना की घर में बैठ कर शरीर को जंग लगाने की |

80% भोजन 

जापान के लोग कभी भी भर पेट खाना नहीं खाते है, वो हमेशा अपनी भूख का 80% ही भोजन करते है |speakingkitaab.com

इसके लिए आप जब भी खाना खाए, जैसे ही आपका पेट भरने वाला हो तुरंत खाना बंद कर दें |शुरुआत में आपको शायद  पता ना चले की कब अपने 80% भोजन खा लिया है, लेकिन जैसे जैसे आप इसको करेंगे धीरे धीरे सिख जायेंगे |

जापान के लोग इसको करने के लिए, एक थाली में भोजन नहीं करते है बल्कि काफी सारे छोटे छोटे बर्तन में भोजन करते है ताकि उनको लगे उन्होंने बहुत खा लिया लेकिन असल में उन्होंने भोजन कम ही किया होता है |

Recent study में पता चला है की ओकिवाना के लोग रोज़ औसतन 18,00 से 19,00  तक कैलोरी लेते है जब की अमेरिका के लोग औसतन 22,00 से 33,00 कलोरी लेते है |

तनाव : लम्बी उम्र का दुश्मन 

Heidelberg University Hospital ने एक study conduct की जिसमे उन्होंने 30 डॉक्टर को जॉब इंटरव्यू के लिए भेजा जंहा उन्हों बहुत ही ज्यादा कठिन सवालों को करने के लिए दिया |

बाद में जब उनके ब्लड sample लिए गए और उनको check किआ गया, तब पाया गया की उनके शरीर में antibody ने तनाव को वैसे ही react किआ जैसे की वो pathogens (बीमारी को पैदा करने वाले जीव) पर करती है |

इसमें दिक्कत ये है की जब ये antibody बनती है तो ये pathogens को तो मारती ही है लेकिन साथ में हमारे healthy cells को भी मार देती है जिससे हम उम्र से ज्यादा बूढ़े लगते है और सुस्त से मालूम होते है |speakingkitaab.com

क्योंकि हम हमेशा से ऐसे नहीं थे पहले हम शिकार के लिए जाया करते थे सिर्फ तभी तनाव लिया करते थे लेकिन आज छोटी छोटी बात को सोचते रहते है और अपने healthy cells को मारते रहते है |

पहले का तनाव सच्चा तनाव था मतलब की जब कोई जानवर आकर हमला कर देता था तो उसमे हमारी जान जा सकती थी, लेकिन आज के खतरे सिर्फ नाम मात्र के खतरे है जो हम सिर्फ अपने दिमाग में बना लेते है लेकिन असल में वो होते भी नहीं है |

लेकिन ध्यान रखे थोडा सा तनाव आपके लिए अच्छा है इसलिए नपातुला तनाव आप ले सकते है जिससे आपको काम करने में मदद मिलेगी |

ज्यादा ना बैठे 

ज्यादा देर तक बैठने से आप जल्दी बूढ़े होंगे, ज्यादा देर तक बैठने से शायद आपको शारीरिक तौर पर आराम मिले लेकिन इससे आपकी cells को नुकसान होगा, खाने का असंतुलन, hypertension, और यंहा तक की कैंसर जैसी बीमारी भी हो सकती है |speakingkitaab.com

इससे बचने के लिए आपको बस अपनी रोज़मर्रा ज़िन्दगी मे ये कुछ आदतें जोड़नी चाहिए |

  • रोज़ कम से कम 21 मिनट चले
  • लिफ्ट या एलीवेटर का इस्तेमाल ना करें
  • social activity में participate करो ताकि आप देर तक टीवी के सामने बैठे ना रहो
  • अपने junk food, पैकेट वाले food को अच्छे खाने से बदल दे
  • एक अच्छी quality की नींद ले, 7 या 9 घंटे की नींद ले इससे ज्यादा ना सोये
  • अपने बच्चो या अपने पालतू जानवर के साथ खेलें
  • शुरुआत में आप टाइमर भी लगा सकते है ताकि आपको याद रहे की चलने का वक़्त हो गया है
  • आप google से app का भी इस्तेमाल कर सकते है | जो रोज़ आपको चलने का task देते है |

काम में focus 

जो भी आप काम करते है उसको करते वक़्त focus होने बहुत जरुरी है focus होने से आपके काम में flow आता है जिससे आप वो काम बहुत ही आसान और बिना थके कर सकते है |

काम में focus और flow लाने के लिए आपको नीचे लिखी बातों को follow करना चाहिए

कठिन काम चुने 

हमेशा वो काम चुने जिसे करने के लिए आपको रिसर्च करनी होगी आपको मेहनत करनी होगी उसको करने के लिए आपके दिमाग को हमेशा सोचना होगा, ताकि आपका focus बना रहे |

ध्यान रहे कोई ऐसा काम ना चुन ले जो आपकी ability से बाहर हो और उसको करना आपके लिए इतना ज्यादा कठिन हो की कुछ दिनों बाद उसको करना बंद कर दें |speakingkitaab.com

और कोई ऐसा काम भी ना करने लग जाए जो आपके लिए बहुत ही ज्यादा आसान हो जिसे करते वक़्त आप bore feel करें और उसको करना बंद कर दें |

clear objective 

किसी भी  काम को शुरू करने से पहले आपके पास उसको करने clear objective

speakingkitaab.com

होना चाहिए, की आपको क्या करना है कब करना है किसलिए करना है क्यों करना है ये सब बातें आपको पहले से पता होनी चाहिए |

उसको खत्म करने के लिए एक समय होना चाहिए ताकि उसको आप समय पर ख़त्म कर सके और उसको आगे के लिए टाले ना |

सिर्फ एक काम 

हमें ऐसा लगता है की एक साथ एक से ज्यादा काम करने से हम अपने समय बचाते है, और ज्यादा काम, कम समय में खत्म कर सकते है लेकिन scientific एविडेंस इसके बिलकुल उलटे है |

जो लोग एक समय में एक से ज्यादा काम करते है, वो काम को late ख़त्म करते है साथ ही उस काम को करते वक़्त वो बिलकुल भी productive नहीं होते है |speakingkitaab.com

आप खुद देखिये आप कितनी बार खाना खाते वक़्त अपना मोबाइल इस्तेमाल करते है, पढ़ते वक़्त टीवी देखते है, एक काम सोचते वक़्त किसी और काम के बारे में सोच रहे होते है |

अगर आपको अपना focus बढ़ाना है और काम में flow चाहिए तो आपको एक समय में सिर्फ एक ही काम करना या सोचना चाहिए |

  • जब अप सुबह उठे तो 1 घंटे तक अपने फोन या लैपटॉप या टीवी की स्क्रीन बिलकुल ना देखें
  • सोने से एक घंटा पहले अपने फोन की स्क्रीन ना देखें, इससे आपको नींद आने में मदद मिलेगी
  • काम करते वक़्त फोन को स्विच ऑफ या do not disturb कर दें
  • हफ्ते में एक दिन technical व्रत रखे जिसमे अपना फोन का इस्तेमाल ना करें
  • 50 मिनट काम और 10 मिनट आराम करे
  • बेकार के काम को ना कहना सीखिए

दुनिया के सबसे लम्बी उम्र वाले लोग क्या खाते है ?

world health organization के अनुसार जापान में सबसे ज्यादा life expectancy है, आदमियों के लिए 85 साल और औरतों के लिए 87 साल |

तो आईये देखते है की जापान के लोग ऐसा क्या खाते है जिससे तो इतने लम्बे समय तक जीते है |

क्या कम खाएं  : जापान के ओकिनावा के लोग नमक और चीनी बहुत ही कम खाते है, पेट भर के खाना नहीं खाते है, भूख का 80% ही खाते है जो हमने पहले ही देख लिया है |

क्या खाते है :speakingkitaab.com

  • जापान के लोग रोज़ औसतन 18 अलग-अलग तरह के foods  खाते है
  • फलो और सब्जियों  की 5 serving हर रोज़ लेते है, जिसमे अलग अलग रंग की शिमला मिर्च, गाजर, पालक,  गोभी, आलू, फलिया, और सोयाबीन होती है
  • 30% केलोरी जापान के लोगो की सिर्फ सब्जियों से आती है
  • गहुँ जापान के लोगो की नीव है और सफ़ेद चावल रोज़ खाते है
  • मछली हफ्ते में 3 बार खाते है
  •  नमक  औसतन 7 ग्राम से लेकर 12 ग्राम ही खाते है

जापान के 15 antioxidant foods 

  • tofu ( सोया दूध से बना पनीर )
  • miso ( सोया को फेर्मेंट करके बनाया जाता है )
  • Tuna मछली
  • गाजर
  • करेला
  • sea kelp ( समुद्र का algae)
  • पत्ता गोभी
  • Nori (समुद का algae)
  • प्याज
  • soy स्प्राउट्स
  • खीरा
  • सोयाबीन
  • सकरकंदी
  • शिमला मिर्च

 

  • जैस्मिन चाय

 

जैस्मिन चाय के फायदेspeakingkitaab.com

  • हार्ट अटैक को कम करती है
  • immune सिस्टम को बढाती है
  • तनाव को कम करती है
  • cholesterol level को कम करती है

ग्रीन चाय के फायदे 

speakingkitaab.com

 

  • खून में सुगर की मात्रा को कम करती है
  • cholesterol को control करती है
  • circulation को बढाती है
  • फ्लू से बचाती है ( विटामिन सी होता है )
  • बैक्टीरिया इन्फेक्शन से बचाती है
  • UV rays से बचाती है

किताब को खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करें 

English Version में खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करें 


आशा करता हूँ आपको ये book summary पसंद आई होगी…अगर हाँ तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें…धन्यवाद !


पंकज त्रिपाठी की कहानी पढ़े 

About the author

Vishal Paul

hello दोस्तों मेरा नाम Vishal Paul है, मुझे किताबे पढ़ना और जो बातें मेने उन किताबों से सीखी उनको दुसरो को बताना पसंद है। तो अगर आपको भी बहुत थोड़े समय में बहुत कुछ जानना है तो आप speakingkitaab पर visit कर सकते है जहाँ हम कुछ Great life lessons हिंदी में सीखेंगे।

View all posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *